श्रद्धालुओं ने शंकराचार्य निश्चलानंद सरस्वती से अनेक प्रश्न पूछ शांत की अपनी जिज्ञासा

धर्म-कर्म समाज

इंदिरा कॉलोनी में नारायणी विला पधारे महाराज, पादूका पूजन हुआ

नागौर // पुरीपीठाधीश्वर शंकराचार्य स्वामी निश्चलानंद सरस्वती जी महाराज के दो दिवसीय नागौर प्रवास के दौरान रविवार को यहां माली समाज भवन में श्रद्धालुओं ने पादूका पूजन में भाग लिया। इससे पूर्व माली समाज भवन में हुई संगोष्ठी में शंकराचार्य जी ने जीवन के अनेक सूत्र बताए तथा धर्म व अध्यात्म की विस्तार से व्याख्या भी की। उन्होंने ईश्वर की सत्ता के बारे में बताया। इस दौरान अनेक श्रद्धालुओं ने प्रश्न पूछे तो शंकराचार्य निश्चलानंद सरस्वती ने उनके सटीक जवाब देकर उनकी जिज्ञासा शांत की। यह सत्र दो घंटे तक चला। इसके बाद चरण पादूका पूजन हुआ। महिलाओं ने कतारबद्ध होकर पादूका पूजन में हिस्सा लिया।इस कार्यक्रम में आयोजन समिति के संयोजक भोजराज सारस्वत, पंकज जोशी, आनंद पुरोहित, शरद जोशी, नृत्यगोपाल मित्तल, बजरंग शर्मा, हेमंत जोशी, मनोज व्यास सहित अनेक लोग मौजूद थे। उधर शंकराचार्य जी इंदिरा कॉलोनी स्थित नारायणी विला में पधारे। जहां उनका भव्य स्वागत शंकराचार्य स्वागत समिति के प्रमुख कार्यकर्ता एवम् अग्रवाल समाज के पूर्व मंत्री दिलीप पित्ती ने किया। इस अवसर पर प्रतीक पित्ती, अंकुश पित्ती, चंद्रप्रकाश अग्रवाल, जयकिशन अग्रवाल सहित अग्रवाल समाज के अध्यक्ष मांगीलाल बंसल, मनीष बंसल, केदार पित्ती, भोजराज सारस्वत, बालकिशन काकडा, डॉ अमित राठी, डॉ बीएल भूतडा, नरेंद्र चौधरी, रामावतार चंडक, कपिल कुमार, प्रह्लाद भाटी, नंदकिशोर खरलोया, यश मित्तल, दिलीप भोजक सहित अनेक लोगों ने आशीर्वाद लिया।

शंकराचार्य के दौरे ने भरा श्रद्धालुओं में जोश: सारस्वत

शंकराचार्य जी नागौर प्रवास कार्यक्रम के संयोजक भोजराज सारस्वत ने मीडिया को बताया कि शंकराचार्य निश्चलानंद सरस्वती जी के दो दिवसीय नागौर प्रवास ने श्रद्धालुओं में जोश भर दिया है। उनके इस दौरे के अच्छे परिणाम आएंगे। हिन्दू धर्म, सनातनी संस्कृति, हमारी परम्पराएं, हमारे आचार विचार और देश की व्याप्त समस्याओं पर शंकराचार्यजी ने खुलकर कार्यकर्ताओं से चर्चा की है। सारस्वत ने कार्यक्रम को सफल बताया तथा ऐसे आयोजन धर्म व सनातन संस्कृति को मजबूत करते हैं। उन्होंने सहयोग देने वाले सभी श्रद्धालुओं का आभार भी ज्ञापित किया।

Advertisements