एटीएम बदलकर 76 हजार की ठगी करने वालों को पुलिस 25 किमी पीछा कर पकड़ा, 3 गिरफ्तार

क्राइम
  • नागौर एसपी राममूर्ति जोशी के निर्देश पर पुलिस ने 2 घंटे में किया प्रकरण का खुलासा
  • एटीएम बदलकर रुपए निकालने वाले अन्तर्राज्यीय गिरोह का पर्दाफाश किया

नागौर // नागौर पुलिस ने शुक्रवार को एटीएम कार्ड बदलकर ठगी करने के एक प्रकरण में इतिहास रच दिया। वारदात की सूचना मिलते ही एसपी राममूर्ति जोशी के निर्देश पर हरकत में आई पुलिस ने मात्र 2 घंटे में इस वारदात का खुलासा कर शहर से 20-25 किमी दूर आरोपियों को पीछा कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने इस प्रकरण में 3 आरोपियो को पकड़ा है। तीनों ही हरियाणा के हिसार जिले के वाशिंदे हैं। पुलिस ने आरोपियो के कब्जे से एक बार तथा विभिन्न बैंकों के 16 एटीएम कार्ड भी जब्त किए हैं।

नागौर एसपी राममूर्ति जोशी ने बताया कि 23 सितंबर को गोगेलाव निवासी देरामाराम पुत्र भंवरलाल मेघवाल ने सदर पुलिस को दी रिपोर्ट में बताया कि पुलिस अधीक्षक कार्यालय व कलेक्ट्रेट कार्यालय नागौर के मध्य स्थित एटीएम वह सुबह रुपए निकाल रहा था। इस दौरान रुपए नहीं निकले तो पास में खड़े व्यक्तियों ने मदद करनी चाही और पीड़ित ने अपना एटीएम उनको दे दिया। फिर उन्होंने एटीएम कार्ड लेकर अवधेश सिंह नाम लिखा हुआ दे दिया। बाद में आरोपियों ने उसी एटीएम कार्ड से 5 बार पीड़ित के खाते से 76 हजार 23 रुपए निकाल लिए। एटीएम चेंज कर 76 हजार की ठगी करने की सूचना मिलते ही पुलिस को पता चला कि एक सफेद कलर की स्विफ्ट कार में दो तीन व्यक्ति थे जिन्होंने इस वारदात को अंजाम दिया है। ये लोग चेनार की तरफ जाने की सूचना मिली। इस पर एसपी जोशी के निर्देश पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेश मीणा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक डीडवाना विमलसिंह नेहरा, उपाधीक्षक जायल रामेश्वर लाल, कोतवाली थानाधिकारी हनुमानसिंंह चौधरी मय जाब्ते के गाड़ी का पीछा करना शुरू किया। इस दौरान इस पूरे इलाके में नाकाबंदी करवा दी। जगह जगह नाकाबंदी देख आरोपी फागली गांव की सरहद में सड़क किनारे खाई में गाड़ी छोड़ तीनों आरोपी खेतों में भाग गए। जिस पर मौके पर मौजूद एएसपी राजेश मीणा व डीडवाना के एएसपी विमल सिंह नेहरा के सुपरविजन में नागोर, मेड़तारोड रोल व जायल तथा डीएसटी टीम नागौर तथा जायल सर्किल के जाप्ता के सहयोग से इस इलाके में सर्च अभियान चलाया। इस पर पुलिस को दो घंटे में सफलता मिल गई।

तीन आरोपियों को पकड़ा, तीनों के हरियाणा के

इस दौरान पुलिस ने नारनोद जिला हिसार निवासी राकेश सांसी पुत्र धर्मवीर, हांसी जिला हिसार के महावीर सांसी पुत्र बलवीर सांसी एवं अगरोला जिला हिसार निवासी संजय सांसी पुत्र हवासिंह को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों के कब्जे से एक सफेद कलर की कार और 16 बैंकों के एटीएम कार्ड जब्त किए गए। अब पुलिस आरोपियों से कड़ी पूछताछ कर रही है। पुलिस को उम्मीद है कि इनसे ऐसे ही कई ठगी प्रकरणों का खुलासा होने की उम्मीद है।

नागौर में बढ़ रही है हरियाणा के बदमाशों की चहल कदमी

नागौर शहर में इन दिनों हरियाणा के बदमाशों की चहलकदमी बढ़ रही है। वे बैखौफ होकर वारदातों को अंजाम दे रहे हैं। कुछ दिन पूर्व ही हरियाणा के बदमाशों ने कचहरी परिसर के बाहर सुपारी किलर संदीप सेठी की दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या कर दी थी। सभी आरोपी सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गए मगर अभी तक पुलिस के हाथ नहीं लगे हैं। अब हरियाणा के हिसार जिले के तीन ठगों ने गोगेलाव के एक व्यक्ति का एटीएम बदलकर होशियारी से उसके खाते से 76 हजार रुपए निकाल लिए। हालांकि पुलिस की सर्तकता से तीनो आरोपी 2 घंटे में ही हाथ गए। उधर शहरवासियों का कहना है कि हरियाणा के बदमाश बिना रोक टोक के शहर में घूम रहे हैँ। ऐसे में पुलिस प्रशासन को रात के अलावा दिन में भी नियमित गश्त को बढ़ावा देना चाहिए। बैँको, एटीएम बूथों के आस पास सादी वर्दी में पुलिसकर्मी रहेंगे तभी ऐसी वारदातें रुकेगी। अन्यथा बाहरी राज्यों के बदमाश आए दिन पुलिस को चुनौती देंगे।