मांगे नहीं माने जाने से तीसरे दिन भी सामूहिक अवकाश पर रहे न्यायिक कर्मचारी

प्रशासन

नागौर // न्यायिक कर्मचारी संघ की मांगे नहीं माने जाने व जयपुर सुभाष मेहरा प्रकरण में एफआईआर दर्ज नहीं होने से पूरे जिले के न्यायिक कर्मचारी तीसरे दिन भी सामूहिक अवकाश पर रहे तथा न्यायालय के बाहर धरने पर बैठकर आक्रोश प्रकट किया। न्यायिक कर्मचारी संघ के जिला अध्यक्ष विनोद भाटी ने बताया की राजस्थान उच्च न्यायालय प्रशासन से वार्ता के बावजूद अभी तक कोई प्रभावी कार्यवाही नही होने से पूरे प्रदेश के न्यायिक कर्मचारी सामूहिक अवकाश पर चल रहे है। न्यायालय परिसर पर धरने में जिलाध्यक्ष विनोद भाटी, संजीव वर्मा, नितिन माथुर, कमल सांखला, छगल कुड़ी, महावीर जांदू, विवेक पुरोहित, देवानंद गहलोत, भरत चारण, स्नेहलता, यशपाल, बजरंग सोढ़ा, निसार खान आदि शामिल रहे।